पिथौरागढ़ हेली सेवा का अनुबंध होगा निरस्त! हल्द्वानी- पंतनगर-देहरादून शहरों में भी उड़ानें प्रभावित

चुनाव से पहले शुरू की कई पिथौरागढ़-हल्द्वानी- पंतनगर-देहरादून हेलीसेवा भी बंद होने के कगार पर पहुंच गई है। चयनित कंपनी जून प्रथम सप्ताह से ही सेवा नहीं दे रही है। तंग आकर नागरिक उड्डयन विभाग ने केंद्र सरकार से कंपनी का अनुबंध निरस्त करने की सिफारिश कर दी है। इससे पहले इस रूट पर छोटे विमान से संचालित होने वाली हवाई सेवा भी इन्हीं हालातों में बंद हो चुकी है।

पिछले साल अक्तूबर में नागरिक उड्डयन विभाग ने पिथौरागढ़ से वाया हल्द्वानी, पंतनगर,  देहरादून तक के लिए हेलीसेवा प्रारंभ की थी। इस सेवा को शुरू करने के लिए खुद केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंघिया देहरादून आए थे। पवनहंस की ओर से संचालित इस सेवा में एक तरफ का किराया आठ हजार होने के बावजूद, यात्रियों की कमी नहीं रही।

लेकिन सेवा कभी भी नियमित नहीं हो पाई। फरवरी में विधानसभा चुनाव सम्पन्न होने के बाद सेवा अनियमित हो गई, अब जून प्रथम सप्ताह से सेवा पूरी तरह बंद है। राज्य नागरिक उ्डयन विभाग के कई प्रयासों के बावजूद जब कंपनी ने सेवा संचालित नहीं की तो अब विभाग ने केंद्र सरकार को उक्त कंपनी का अनुबंध निरस्त करने की सिफारिश कर दी है।

पूर्व में बंद हो चुकी है हवाई सेवा: पिथौरागढ़ के लिए 2018 में देहरादून से वाया पंतनगर हवाई सेवा शुरू की गई थी। तब हेरिटेज एविएशन ने नौ सीटर विमान से कुछ दिन इस पर सेवा शुरू की। लेकिन नियमित सेवा न देने के कारण, उक्त सेवा भी बंद हो गई थी। इसके विकल्प के रूप में राज्य सरकार ने हेली सेवा शुरू की थी, लेकिन अब नई हेलीसेवा भी बंद होने के कगार पर पहुंच गई है।

अन्य सेवा भी प्रभावित: उड़ान योजना के तहत देहरादून से चिन्यालीसौंड, टिहरी, श्रीनगर और गोचर के बीच भी हेली सेवाएं हैं। लेकिन इस समय उक्त सभी सेवाएं अनियमित हैं। केदारनाथ जाने के लिए भी अब एक ही कंपनी की सेवा उपलब्ध है।  सूत्रों के मुताबकि देहरादून में हेलीसेवा देने वाली कंपनियां अपने हेलीकॉप्टर इन दिनों अमरनाथ यात्रा में तैनात कर चुकी हैं। उत्तराखंड में फिलहाल हेलीसेवाओं का संचालन प्रभावित है।

पिथौरागढ़ – देहरादून मार्ग पर हेली सेवा नियमित रखने के लिए पवनहंस को कई बार कहा गया, लेकिन कंपनी की सेवाओं में सुधार नहीं हो रहा है। हमने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर, कंपनी का अनुबंध निरस्त करते हुए नई कंपनी का चयन करने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.