नेपाल की तरफ से फिर हुआ पथराव, तटबंध निर्माण के बीच शरारती तत्वों ने 12वीं बार किया ऐसा

भारत की ओर से काली नदी किनारे तटबंध निर्माण के दौरान मंगलवार को नेपाल की तरफ से फिर पथराव की घटना हुई है।

नेपाल की तरफ से शरारती तत्वों ने बारहवीं बार पथराव किया है। तटबंध निर्माण कार्य में लगे मजदूरों ने बताया कि मंगलवार शाम नेपाल की तरफ से हल्का पथराव किया गया।

अंधेरा होने के बाद हुई घटना में पथराव करने वाले भी नजर नहीं आए

पथराव से मजदूर कार्य छोड़ कर बचने के लिए दूसरी ओर भागे। हालांकि कुछ ही देर बाद पथराव बंद भी हो गया।

कार्यस्थल पर मौजूद लोगों के अनुसार अंधेरा होने के बाद हुई घटना में पथराव करने वाले भी नजर नहीं आए। तटबंध निर्माण कार्य कर रही कंपनी के लोगों ने प्रशासन से सुरक्षा की मांग की है।

अब तक नेपाल के कुछ शरारती लोगों ने बारहवीं बार पथराव किए

भारत में एक साल से तटबंध निर्माण का कार्य के दौरान अब तक नेपाल के कुछ शरारती लोगों ने बारहवीं बार पथराव किया है। दिसंबर में पथराव से एक लोडर मशीन का आपरेटर चोटिल हो गया था।

लोडर और ट्रक के शीशे टूट गए थे। इसके बाद नेपाल के विप्लव गुट के छात्रों की रैली के दौरान भी भारत में तटबंध निर्माण स्थल पर पथराव किया गया था।

पथराव नहीं थमने से धारचूला के लोगों में भी आक्रोश

इस संबंध में दोनों देशों के प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक और निरीक्षण तक हो चुका है। इसके बाद भी नेपाल की तरफ से पथराव नहीं थमने से धारचूला के लोगों में भी आक्रोश बढ़ है। उपजिलाधिकारी दिवेश शाशनी ने बताया कि पथराव की घटना के बारे में पता लगाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.