सिक्किम में सेना के बलिदान हुए 16 जवानों में एक उत्‍तराखंड से, क्षेत्र में शोक की लहर

सिक्किम में सेना के वाहन दुर्घटना में तहसील के पय्यापौड़ी गांव निवासी जवान रवीद्र सिंह थापा बलिदान हुआ है। उसकी शहादत की खबर मिलते ही पैतृक गांव सहित पूरे क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त है।

16 जवान बलिदान हुए औैर चार जवान घायल हुए

सिक्किम में हुए सेना वाहन दुर्घटना में 16 जवान बलिदान हुए औैर चार जवान घायल हुए। बलिदानी जवानों में पिथौरागढ़ की धारचूला तहसील के पय्यापौड़ी गांव निवासी रवींद्र सिंह थापा भी शामिल है। सेना द्वारा इसकी सूचना स्वजनों को दी गई । सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

बलिदानी रवींद्र सिंह तीन भाईयों में मंझला था

बलिदानी के गांव में घर में उसकी वृद्धा माता, पत्नी कमला सहित नौ वर्ष की पुत्री और तीन साल का पुत्र हैं। बलिदानी रवींद्र सिंह तीन भाईयों में मंझला था।

बलिदान की खबर मिलने के बाद क्षेत्र में शोक

उसके एक भाई धारचूला लोनिवि में कार्यरत हैं तो दूसरा भाई हल्द्वानी में रहते हैं। बलिदानी के चाचा बीएस थापा धारचूला व्यापार मंडल के अध्यक्ष हैं। बलिदान की खबर मिलने के बाद क्षेत्र में शोक व्याप्त है।

जवानों को सेना की बस पोस्ट पर लेकर जा रही थी कि अचानक बस खाई में जा गिरी। इस दुर्घटना में उत्‍तराखंड का एक जवान भी शामिल था।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने हादसे पर दुख जताया

जानकारी के मुताबिक सिक्किम में दुखद सड़क दुर्घटना में भारतीय सेना के 16 वीरों ने अपनी जान गंवाई है, तीन जूनियर कमीशंड अधिकारी और 13 सैनिक दुर्घटना में बलिदानी हो गए हैं।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने हादसे पर दुख जताया है। उन्‍होंने सिक्किम में एक सड़क दुर्घटना में भारतीय सेना के वीर जवानों के जान गंवाने पर दुख व्‍यक्‍त किया है और मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदनाएं जताई हैं। उन्‍होंने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.