भाजपा सरकार में उत्तराखंड में दलितों के खिलाफ उत्पीङन की घटनाएं बढी है– प्रदीप टम्टा (पूर्व सांसद)

पूर्व राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने आरोप लगाया कि भाजपा शासन में दलित उत्पीड़न की घटनाएं बढ़ी है। उत्तरकाशी में दलित युवती के साथ दुष्कर्म और अल्मोड़ा में दलित की हत्या कर दी गई है। शासन दलितों के खिलाफ बढ़ते अपराधों को लेकर गंभीर नहीं है।

पत्रकारों से बातचीत में आरोप लगाया कि एक सप्ताह में उत्तरकाशी और अल्मोड़ा में दलितों के साथ दो घटनाएं हुईं, लेकिन शासन ने कोई गंभीरता नहीं दिखाई। कहा नाबालिग के साथ दुष्कर्म की घटना हुई, लेकिन शासन-प्रशासन के साथ ही समाज के अंदर भी कोई गंभीर प्रतिक्रिया नहीं दिखाई दी। दुष्कर्म की घटना को लेकर पुलिस ने प्राथमिक दर्ज करने में गंभीरता नहीं दिखाई। पूर्व सांसद ने भर्ती घोटाले को लेकर कहा कि कांग्रेस लगातार भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच की मांग कर रही है, लेकिन प्रदेश की सरकार भ्रष्ट अधिकारियों और राजनेताओं को बचाने का काम कर रही।

कहा कि बैकडोर से नौकरियों की बंदरबांट हो रही है। चहेतों को नौकरी दी गईं, जो राज्य के युवाओं के साथ अन्याय है। कहा कि भर्ती घोटाले में चाहे जितना भी बड़ा रसूखवाला शामिल हो, सभी के खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए। कहा कि भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच बहुत जरूरी है। कहा कि मुख्यमंत्री सीबीआई जांच से क्यों बच रहे है, क्या सरकार भर्ती घोटाले में किसी राजनेता या नौकरशाह को बचाने का काम कर रही है। इस मौके पर पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला, सामाजिक कार्यकर्ता जबर सिंह वर्मा और रूपचंद मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.