भाजपा देगी बेरोजगारों को नौकरी! यूथ कांग्रेस राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी राहुल राव बाले-नौकरियां दी नहीं बल्कि छीनी हैं

यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी राहुल राव ने कहा कि भाजपा ने हमेशा युवाओं को छला है। हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वादा करने वाली भाजपा ने नौकरी देने के बदले लोगों की नौकरियां छीनने का काम किया। वर्तमान चुनाव में प्रदेश क युवा वोट से भाजपा पर चोट करेगा। 10 मार्च को उत्तराखंड में बनने जा रही कांग्रेस सरकार पांच साल में चार लाख युवाओं को रोजगार देगी।

राजीव भवन में शुक्रवार दोपहर प्रेस कांफ्रेस में राव ने कहा कि उत्तराखंड के युवा मेधा और योग्यता के लिहाज से किसी से कम नहीं है। लेकिन राज्य की कुनीतियों की वजह से युवाओं की क्षमताओं का उपयोग नहीं हो पा रहा है। प्रदेश में बेरोजगारी की दर बढ़ती जा रही है। सेवायोजन दफ्तरों, उपनल में दर्ज बेरोजगारों के आंकड़े हर साल बढ़ते ही जा रहे हैं। सत्ता में आने पर कांग्रेस पूरा फोकस रोजगार और स्वरोजगार पर रहेगा।

मीडिया संयोजक शिवा वर्मा ने कहा कि उत्तराखंड की भाजपा सरकार की कलई खुल चुकी है। युवा विरेाधी सरकार का चेहरा बेनकाब हो चुका है। प्रदेश के नौजवान 14 फरवरी को मतदान के दिन भाजपा को वोट की चोट से सत्ता से बेदखल करने का काम करेंगे। इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष सोनू हसन, गौरव सेठ, अक्षय चावला, हन्नी गोगिया, अभिषेक ठाकुर, शशांक सहदेव ,अभिमन्यु शर्मा, गौतम सोनकर,बिट्टू थापली, विकास नेगी, सिद्धार्थ वर्मा आदि मौजूद रहे।

कांग्रेस ने शाह और शिवराज पर उठाए सवाल
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और  मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान पर शुक्रवार को कांग्रेस ने हमला बोला। प्रदेश उपाध्यक्ष व पीसीसी के मीडिया सलाहकार सुरेंद्र कुमार ने कहा व्यापक घोटाला, खनन घोटाले का जिक्र करते हुए चौहान पर सवाल उठाए। वहीं नोटबंदी के दौरान गुजरात के सहकारी बैंकों में करोड़ों रुपये जमा होने के लिए गृह मंत्री से भी सवाल पूछे। कहा कि भाजपा नेता लोकतंत्र व राजनीति को धनबल और बाहुगल से कलंकित कर रहे हैं। आम आदमी का मूल मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए आधारहीन विषयों को उठा रहे हैं।

भाजपा की विदाई का वक्त आ चुका है: आशा
महिला कांग्रेस की वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा ने कहा कि भाजपा के सभी नेता इस चुनाव में अपनी हार को भांप चुके हैं।  यही वजह है कि आज भाजपा के नेता महंगाई ,बेरोज़गारी, भ्रष्टाचार, विकास आदि बुनियादी मुद्दों पर बोलने की हिम्मत तक नहीं जुटा पा रहे हैं। पांच साल में तीन मुख्यमंत्री बदलने वाली प्रदेश सरकार एक साल बाद भी रैणी क्षेत्र में धौली गंगा और ऋषि गंगा के टूटे तटबंधों पर बाढ़ सुरक्षा कार्य शुरू नहीं कर पाई। मलारी हाईवे का सुधारीकरण कार्य भी अभी तक शुरू नहीं हो पाया है। पाँच वर्ष तक भाजपा सरकार हर मोर्चे पर असफल रही है। अब भाजपा की विदाई का वक्त आ गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.