कांग्रेस में फिर उठे बगावती सुर, 10 नेताओं को पार्टी ने छह साल के लिए बाहर निकाला

चुनाव के दौरान पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ बागी नेता का समर्थन करने वाले कांग्रेस नेताओं पर भी गाज गिरना शुरू हो गई। शुक्रवार को रुद्रप्रयाग में 10 नेताओं को पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया। इससे पहले कांग्रेस पार्टी से एक पूर्व काबीना मंत्री, पांच पूर्व विधायकों समेत 20 नेताओं को पार्टी से बाहर कर चुकी है।

प्रदेश महामंत्री-संगठन मथुरादत्त जोशी ने जिलाध्यक्ष ईश्वर सिंह बिष्ट ने कालीचरण रावत, चैन सिंह पंवार, नरेंद्र सिंह चौहान, नीरज डंगवाल, विशाल रावत, रणवीर सिंह गुसांई, भारत भूषण कठैत, मकर बैरवाण, विक्रम नेगी और सुनील नौटियाल को निष्कासित कर दिया है। सभी जिला व नगर अध्यक्षों और चुनाव में पार्टी के अधिकृत प्रत्याशियों से चुनाव में असहयोग करने वाले कार्यकर्ताओं को ब्योरा मांगा गया है। अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव में काम करने वाले पार्टी पदाधिकारी-कार्यकर्ताओं को छह साल के लिए निष्कासित कर किया जाएगा।

अब तक निष्कासित

पूर्व काबीना मंत्री-मातबर सिंह कंडारी
पूर्व विधायक- नारायण राम, तस्लीम अहमद, भीमलाल आर्य, किशोर उपाध्याय, सरिता आर्य
पदाधिकारी: संजय डोभाल, संजय नेगी, संध्या डालाकोटी, एसपी सिंह इंजीनियर, बालकिशन, भैरवनाथ टम्टा, अंकुर रौथाण, राजीव कंडारी, गजेंद्र सिंह पंवार, जसपाल लाल, हंसपाल बिष्ट, सुनील वरूण, वरदेव सिंह, उर्वीदत्त गुरूलीप्रदेश महामंत्री मथुरादत्त जोशी ने बताया, अनुशासन सतत प्रक्रिया है। चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी काम करने वालों को निष्कासित किया जा रहा है। आगे भी पार्टी अनुशासन को तोड़ने वालों पर कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.